Breaking News

आर्थिक मंदी का कुप्रभाव : होंडा का मानेसर प्लांट अनिश्चित काल के लिए बंद, हजारों श्रमिकों की रोजी-रोटी पर संकट

गुड़गांव। आटोमोबाइल क्षेत्र की अग्रणी कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने इस सप्ताह से हरियाणा के मानेसर में अपने संयंत्र में अनिश्चितकाल के लिए परिचालन बंद कर दिया। बताया जा रहा है कि संयंत्र में उत्पादन 5 नवंबर से लगातार प्रभावित हो रहा है। 1,650 से अधिक श्रमिक लगभग 650 लोगों की छंटनी के विरोध में हड़ताल कर रहे हैं। बातचीत विफल रहने के बाद कंपनी ने यह कदम उठाया।

कर्मचारियों को कंपनी प्रबंधन द्वारा जारी एक नोटिस में कहा गया है “औद्योगिक संबंधों की स्थिति के कारण, संयंत्र के संचालन को निलंबित कर दिया गया है और संयंत्र अगली सूचना तक बंद रहेगा। ” प्रदर्शनकारी श्रमिकों की मांग है कि हटाए गए लोगों को या तो वापस बुलाया जाए या प्रति वर्ष 1 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाए। श्रमिकों के संघ का कहना है कि होंडा के मानेसर संयंत्र में लगभग 1900 स्थायी कर्मचारी और 2,500 संविदा कर्मचारी कार्यरत हैं।पिछले हफ्ते एक प्रेस नोट में होंडा ने कहा था कि मांग में उतार-चढ़ाव और उत्पादन में कमी के कारण श्रमिकों को छुट्टी पर भेजा गया है। अगस्त में कंपनी द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार उत्पादन में कटौती के कारण लगभग 700 ठेका श्रमिकों को निकाला गया है।

ऑटोमोबाइल उद्योग संकट में है, पिछली तिमाही में 15,000 नौकरियां खत्म हो गईं और पिछले साल में सैकड़ों डीलरशिप बंद हो गए, जबकि गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों के संकट के कारण, बिक्री में भारी गिरावट आई है। होंडा के अधिकारियों ने दावा किया कि मंदी के कारण कई नौकरियां गई हैं।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

क्‍या राहुल गांधी को ब्रिटेन यात्रा के लिए मंजूरी की जरूरत थी?

🔊 Listen to this @नई दिल्ली शब्द दूत ब्यूरो (25 मई, 2022) कांग्रेस के पूर्व …