Breaking News

अफसरों के सैलून से रेलवे चलाएगा लग्जरी ट्रेनें

नई दिल्ली। भारतीय रेल विभाग औपनिवेशिक काल के रेलवे सैलून्स को लग्जरी ट्रेन में बदलने की योजना पर काम कर रहा है। रेलवे ने करीब 200 सैलून्स को 10 लग्जरी ट्रेन में बदलने का फैसला किया है। इससे रेलवे को अच्छी संख्या में राजस्व की प्राप्ति होने की उम्मीद है। सैलून्स से बनायी गई इन लग्जरी ट्रेनों का संचालन आई आर सी टी सी द्वारा किया जाएगा। बता दें कि बेहतरीन सुख-सुविधाओं से लैस इन सैलून्स को रेलवे के शीर्ष अधिकारियों द्वारा बतौर निरीक्षण कार के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है।

इन निरीक्षण कारों से रेलवे अधिकारी दूर-दराज के इलाकों का दौरा करते हैं। इन सैलून्स में दो बेडरुम, एक पैंट्री, एक टॉयलेट, एक लाउंज और एक किचन की सुविधा होती है। इन सैलून्स में 5 दिनों तक ठहरने की सुविधा होती है। अंग्रेजों के दौर से रेलवे अधिकारियों को सैलून्स की सुविधा मिलती रही है। हालांकि कुछ सैलून्स अभी भी निरीक्षण कार्य के लिए रेलवे अधिकारियों के पास रहेंगे।

बताया जा रहा है कि 200 सैलून्स आई आर सी टी सी को मिलेंगे, जिन्हें लग्जरी ट्रेनों में बदला जाएगा। इन लग्जरी ट्रेनों के संचालन से रेलवे को राजस्व की प्राप्ति होगी। बता दें कि बीते साल रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अधिकारियों द्वारा सैलून्स के इस्तेमाल को औपनिवेशिक काल की सोच करार दिया था और इसके साथ ही पीयूष गोयल ने अपने सैलून को भी सरेंडर कर दिया था। रेल मंत्री ने साथ ही सभी जोनल रेलवे को भी अपने-अपने सैलून्स सरेंडर करने को कहा था।

सूत्रों के अनुसार, रेलवे बोर्ड ने इसके बाद सभी जोनल के लिए निर्देश जारी किए कि वह इन सैलून्स के इस्तेमाल को सख्ती से विनियमित करें। रेलवे बोर्ड के निर्देशों के अनुसार, रेलवे के सभी जोन के पास निरीक्षण के लिए दो सैलून्स ही रहेंगे। इसके साथ ही हर डिवीजन के पास खुद का स्वचालित निरीक्षण कार होगी, जिसमें दोनों तरफ खिड़कियां होंगी। वहीं बाकी सैलून्स को प्रीमियम ट्रेनों में तब्दील किया जाएगा।

भारतीय रेलवे के सभी जोन के पास करीब 336 सैलून कार हैं। इनमें से कई खराब हो चुकी हैं। 62 सैलून कारें एयर-कंडीशंड हैं। बीते साल मार्च में आई आर सी टी सी द्वारा एक निजी सैलून कोच का संचालन किया जा रहा है, जिसमें एक एसी कमरा, वैलेट सेवा, अटैच्ड बाथरुम जैसी सुविधाएं दी गई हैं। अभी इन सैलून्स से बनायी जा रही लग्जरी ट्रेनों के लिए रूट फाइनल किया जा रहा है, जैसे ही बुकिंग आदि डिटेल्स निर्धारित होंगी, वैसे ही वह आई आर सी टी सी की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करा दी जाएंगी।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

दुखद काशीपुर :युवा कांग्रेस नेता शिवम शर्मा के पिता समाजसेवी व पत्रकार दीपक शर्मा का निधन, शब्द दूत परिवार के वरिष्ठ सदस्य थे, श्रद्धांजलि

🔊 Listen to this काशीपुर । पत्रकार व समाजसेवी तथा युवा कांग्रेस नेता शिवम शर्मा …